मैं एक आईफोन यूजर हूँ और आखिरी बार मैंने एंड्रॉइड फोन का इस्तेमाल ८ साल पहले किया था। रीयल मी २ पहला एंड्रॉइड फोन रहा है जिसका मैंने अपने प्राथमिक डिवाइस के रूप में ७ दिन से उपयोग कर रहा हूँ, और मैं आश्चर्यचकित हूँ। एक बड़ी बैटरी, हल्के वजनवाला, ऐसी ऑपरेटिंग सिस्टम जिसका उपयोग करने में आसान, और बहुत अच्छी कीमत यह सब इस फोन में मिलता है। फोन की कीमत ८,९९० रुपये है, और यही एक कारण है जिसकी वजह से मुझे यह फोन पसंद है। मुझे यह फोन पसंद है क्योंकि मुझे इसका उपयोग करने में आराम मिला है। हालांकि, कीमत सबसे बड़ी वजह है, क्योंकि ग्राहक डिवाइस लेते वक़्त इसी के बारे में सबसे ज्यादा विचार करते हैं।

फोन मुझे प्रभावित करने का दूसरा कारण यह है कि बैटरी इतनी देर तक चलती है, यह आश्चर्यजनक है। इसमें ४,३२० एमएएच बैटरी है और मैं लगभग ढाई दिनों तक यह फोन इस्तेमाल कर पाया। मैंने फोन को अपने दैनिक ड्राइवर के रूप में इस्तेमाल किया, जिसमें सोशल मीडिया ऐप सर्फिंग और इंटरनेट ब्राउज़ करना शामिल था। मैं आमतौर पर अपने बैग में पावर बैंक लेता हूं, लेकिन मुझे आश्चर्य हुआ कि रियल मी २ इस्तेमाल करते वक़्त मुझे एक भी बार पावर बैंक की जरुरत नहीं पडी। मैंने अपने फोन पर बहुत सारे वीडियो नहीं देखता, लेकिन बैटरी की समीक्षा और जांच करने के लिए, मैंने नेटफ्लिक्स, हॉटस्टार इत्यादि कई घंटों तक देखा और बैटरी जीवन पर्याप्त से अधिक है। मुझे बाद में पता चला ४,३२० एमएएच बैटरी चार्ज करने में काफी समय लगता है। शून्य प्रतिशत से १०० प्रतिशत तक चार्ज होने के लिए फोन ने तीन घंटे से अधिक समय लिया, और यह बहुत ज्यादा है। हो सकता है कि रियल मी ३ में ओप्पो की वीओओसी चार्जिंग तकनीक को शामिल की जा सकती है?

रीयल मी २ की बिल्ड और डिज़ाइन:

रीयल मी २ एक अच्छा दिखने वाला फोन है। सामने और पीछे कांच का बना होता है और १६८ ग्राम का इसका वजन है। रीयल मी २ में ६.२ इंच का डिस्प्ले है, इसलिए आप केवल एक हाथ से टाइप या ऑपरेट करने में शायद ही सफल होंगे। मैं स्पष्ट रूप से इसकी तुलना रीयल मी १ से करना चाहता हूँ। पहली नज़र में , दोनों समान दिखते थे। एक नजदीकी नज़र डालने पर, आप देखेंगे – एक ड्यूल कैमरा सेटअप, डिस्प्ले नॉच, और पिछली तरफ फिंगरप्रिंट सेंसर।
मैं थोड़ी देर बाद रीयल मी २ के कैमरे के की बारे में आपको बताऊंगा। नॉच के बारे में बात करते हुए, मैं व्यक्तिगत रूप से इसका प्रशंसक नहीं हूँ। फिंगरप्रिंट सेंसर रीयल मी १ पर अनुपस्थित था। मुझे लगता है कि उन्हे अपनी गलती का एहसास हुआ और रीयल मी २ में फिंगरप्रिंट सेंसर को वापस लाया। यह अनलॉक करने में कभी असफल नहीं रहा है। एक बार भी नहीं।

हालांकि, इस फोन का सबसे अच्छा व्यूइंग एंगल इसकी पिछली तरफ है। ‘डायमंड कट’ कांच की सुविधा अनोखी दिखती है। यह एक प्रमुख फिंगरप्रिंट चुंबक भी है, जो अधिकांश यूज़र्स इस पर कवर लगाने के लिए मजबूर करेगा। दिखने में यह ऑनर 9 लाइट जैसा है और उसके साथ सबसे अच्छे दिखने वाले बजट एंड्रॉइड फोन के रूप में जुड़ा हुआ है। एक बोल्ड रीयल मी लोगो चांदी के फोन पर चांदी के पीछे बैठता है, आपको याद दिलाता है की यह फोन ओप्पो ब्रांड का सब-ब्रांड नहीं है। रीअल मी इस वर्ष जुलाई में ओप्पो से अलग हुआ,और अब रीयल मी स्वतंत्र है।

रीयल मी २ का कैमरा:

अगली बात जो मैंने फोन के डिजाइन पर एक नज़र डालने के बाद जानी,वो है रीयल मी २ का कैमरा। रीयल मी २ दिन की उजाले में फ़ोटोग्राफ़ी करने के लिए मामूली रूप से अच्छा है और कम रोशनी की स्थिति में बिलकुल अच्छा नही है। रीयल मी २ में ड्यूल कैमरा सेटअप है जिसमे आपको मिलेगा १३ एमपी का प्राथमिक कैमरा और उसके साथ एफ / २.२ एपर्चर और २ एमपी सेकेंडरी कैमरा जो एफ / २.४ एपर्चर की साथ आता है। इसके आगे एक एलईडी फ्लैश है।

दिन में ली गई फोटो अच्छी हैं, लेकिन फिर एचडीआर की कुछ फोटोज अजीब रूप से तेज दिखती है। इसके अलावा, एक वस्तु पर ध्यान केंद्रित करने में परेशानी है। जब आप पोर्ट्रेट मोड का उपयोग करते हैं तो यह विशेष रूप से देखा जा सकता है। कैमरे को ऑब्जेक्ट पर ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होती है, भले ही आप कितना भी टैप करते रहे। आप उन वस्तुओं पर धुंधलापन करने में सक्षम होंगे जो अनावश्यक हैं। इसे सॉफ़्टवेयर फिक्स के माध्यम से हल किया जाना चाहिए और हमें उम्मीद है कि रीयल मी इसे ध्यान में रखेगा। नॉच के अंदर सामने वाले कैमरे पर आते ही, यह ८ एमपी कैमरा है जिसमें एफ / २.२ एपर्चर है। रीयल मी २ पर शूट किए गए सेल्फी को ठीक ठाक दिखते हैं, कुछ शानदार नही दिखते । इसके प्रतियोगि, जो है ऑनर ९ और रेड्मी नोट ५, इस मूल्य सीमा में बहुत बेहतर सेल्फी खींचते करते हैं।

रीयल मी २ के फीचर्स:

रीयल मी २ में क्वालकॉम का स्नैपड्रैगन ४५० चिपसेट है, जो मुझे लगता है कि डिवाइस की कीमत के लिए पर्याप्त है। हालांकि, यह रीयल मी १ से डाउनग्रेड की तरह लग सकता है, जिसमें मीडियाटेक हेलीओ पी ६० था, जो पेपर पर स्नैपड्रैगन ४५० की तुलना में अधिक शक्तिशाली चिप है। फोन दो स्टोरेज वेरिएंट में आता है, जिसमें ३ जीबी रैम और ३२ जीबी का आंतरिक मेमरी है और दूसरा ४ जीबी रैम और ६४ जीबी आंतरिक मेमरी के साथ आता है। दोनों वेरिएंट एसडी कार्ड स्लॉट के साथ आते हैं, जो २५६ जीबी तक का समर्थन करता है।

ग्राफिक्स के संदर्भ में, डिवाइस में क्वालकॉम एड्रेनो ५०६ है जो मध्य श्रेणी के फोन के लिए एक अच्छा जीपीयू है। कनेक्टिविटी के मामले में, स्मार्टफोन में ३.५ मिमी हेडफोन जैक, माइक्रो यूएसबी पोर्ट, वाई-फाई, वाई-फाई डायरेक्ट, हॉटस्पॉट, ब्लूटूथ, जीपीएस, ग्लोनस और डुअल नैनो सिम स्लॉट्स शामिल हैं।

रीयल मी २ ऑपरेटिंग सिस्टम:

एंड्रॉइड ८.१ ओरीओ पर रीयल मी २ ओप्पो के कस्टम कलर ओएस ५.१ के साथ ओवरले किया गया है, लेकिन इसका उपयोग करना आसान था, क्योंकि मुझे लगता है कि यह आईओएस के समान ही है। मैंने एंड्रॉइड का काफी उपयोग किया है, लेकिन मुझे रीयल मी २ और कलर ओएस ५.१ में समायोजित करने में कोई समस्या नहीं थी। फोन में ऐप ड्रॉवर नहीं है। यह एक साफ डिज़ाइन है जिसे आप अपने फोन पर कम से कम डिज़ाइन पसंद करते हैं तो आप इसकी सराहना करेंगे।

रीयल मी २ की बैटरी लाइफ कितनी है?

मैं इस फोन से उसके अपने बैटरी जीवन के लिए प्यार करता हूं, जैसा कि मैंने पहले कहा था। ४,३२० एमएएच की एक विशाल बैटरी है जो डेढ़ दिन तक चलती है। पर शाओमी का जो रेडमी नोट ५ है उसमे आपको मिलती है सिर्फ ४,००० एमएएच की बैटरी और समान स्टोरेज और रैम और वह रीयल मी २ की तुलना में १,००० रुपियों से महंगा है। बैटरी के मामले में स्मार्टफोन की एकमात्र कमी यह है कि इसमें 3 घंटे तक चार्ज करना पडता है।

रीयल मी २ का डिस्प्ले कैसा है?

रीयल मी २ का डिस्प्ले सभीलोगों को संतुष्ट नहीं कर सकता क्योंकि यह एक सम्पूर्ण एचडी डिस्प्ले नहीं है। ६.२ इंच के डिस्प्ले पर ७२० x १५२० का रेसोलुशन और १९ : ९ का आस्पेक्ट रेश्यो मिलता है। दूसरी तरफ, रीयल मी २ में १०८० x २१६० के रेसोलुशन के साथ एक पूर्ण एचडी प्लस डिस्प्ले था। इसके दोनों प्रतियोगी, रेड्मी नोट ५ और ऑनर ९ लाइट भी पूर्ण एचडी डिस्प्ले पैक करते हैं।

भारत में रीयल मी २ कीमत और एहमियत:

रीयल मी २ सबसे दमदार फोनों में से एक है जिसे आप अभी १०,००० रुपये से कम में खरीद सकते हैं। अविश्वसनीय २-दिन का बैटरी जीवन, विशाल डिस्प्ले, खूबसूरत डिज़ाइन और अदभुत फिंगरप्रिंट सेंसर के लिए इसे खरीदें। अगर आप गेमिंग करते हैं, या एक पूर्ण एचडी डिस्प्ले चाहते हैं और बहुत सारे मोबाइल फोन फोटोग्राफी चाहते हैं तो इसे मत खरीदे। उन पहलुओं में रेड्मी नोट ५ और ऑनर ९ लाइट बेहतर हैं।